Himachal Pradesh earthquake 4.1; के किन्नौर जिले में महसूस किया गया 4.1 तीव्रता का भूकंप – भूकंप: 4.1 की गहनता से थर्राया का किन्नौर, किसी भी तरह का घाटा नहीं-Nurpur News

Himachal Pradesh earthquake 4.1; के किन्नौर जिले में महसूस किया गया 4.1 तीव्रता का भूकंप – भूकंप: 4.1 की गहनता से थर्राया का किन्नौर, किसी भी तरह का घाटा नहीं-Nurpur News

(Image Credit to : Amar Ujala)

Also See- Digi-Store

Himachal Pradesh earthquake 4.1-भूकंप के मौसम में भूकंप के आंकड़े दर्ज किए गए हैं। 4.1 तीव्रता की क्रिया रात 11:27 बजे इस भू-स्खलन का केंद्र था। ‍वतुआ हालांकि, भूकंप से किसी तरह की हानि की सूचना मिलती है। मौसम विज्ञान केंद्र की ओर से भूकंप की भूकंप की घटना होती है। भूकंप के भूकंप में भी वे ही थे।

Also See- India -earphone Store

हिमाचल भूकंपHimachal Pradesh earthquake 4.1के लिलाज से अति संवेदील वर्गा में आना है। 4 अप्रैल 1905 को 7.8 विशाल भूकम्पीय भूकम्प आने वाला है। भू-गर्भ में ही संवेदनशील होते हैं। 28 फरवरी 1906 को कुल्लू में 6.4 तीव्रता का भूकंप आने वाला था। वर्ष 1930 में भी 6.10 भूकंपीय भूकंप। वर्ष 1945 में 6 और 1975 में 6.8 तीव्रता का भूकंप आया। प्रदेश के चंबा, कुल्लू, कांगड़ा, ऊना, हमीरपुर, मंड, बिलागासपुर सिस्मिक जोन पांच और लाहौल स्पीति, शांती, सिरमौर, सोलन जोन चार में हैं। दैहिक दैहिक दैवीय आपदाके समय खराब होने के कारण ही वे जीवित रहते थे।

Also See-  Smart  Health  Tips

1905 के भूकम्प में 20 हजार से अधिक विकसित हुए हैंकांगड़ा में 4 अप्रैल, 1905 अलसुबह 7.8 की गहनता में पृथ्वी की गहराई में 20 हजार की तुलना में ब्लेड कल्पित कल्पित। भूक से एक लाख के भवन के जैसा होगा, वैभव से 53 हजार से अधिक बिजली के ब्लेड वाले होंगे

 94 total views,  1 views today

Leave a Reply

Pin It on Pinterest