Latest Posts

1-1 लाख जुर्माना भी लगाया, 2021 में कुमारसेन पुलिस ने 1 किलो नशा के साथ पकड़े | Shimla: 3 people imprisoned for 10 years for charas smuggling


रामपुर19 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो। - Dainik Bhaskar

प्रतीकात्मक फोटो।

हिमाचल के किन्नौर स्थित अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायलय की रामुपर अदातल ने एक अहम फैसला सुनाते हुए 3 लोगों को चरस तस्करी में 10 साल कैद की सजा सुनाई। साथ ही आरोपियों पर 1-1 लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया है।

बता दें कि 18 अगस्त 2021 को थाना कुमारसैन पुलिस लिंक रोड घेड़वत, HPMC प्रोसेसिंग प्लांट के समीप यातायात चेकिंग कर रही थी। इस दौरान एक टोयोटा कार जोगशा से ओडी की तरफ आई। जिसे रोककर कार चालक दोषी टिक्कम से गाड़ी के कागजात मांगे। चेकिंग के दौरान गाड़ी से प्लास्टिक की थैली बरामद हुई, जिसमें 1 किलो 135 ग्राम चरस पाई गई।

चरस बिकने के बाद देने थे 30 हजार

तफ्तीश के दौरान सामने आया कि उपरोक्त चरस टिक्कम राम ने हेत राम के साथ 16 अगस्त 2021 की शाम बागासराहन में नीटू से खरीद की थी, जिसके बदले में उन्होंने नीटू को 70 हजार रुपए दिए थे।

30 हजार रुपए चरस बिक जाने के बाद देना तय हुआ था। आरोपियों द्वारा किए गए अपराध को साबित करने हेतु अभियोजन पक्ष ने 12 गवाहों के बयान कलमबद्ध किए। अदालत ने साक्ष्यों के आधार पर दोषीगणों को उपरोक्त सजा सुनाई। सरकार की तरफ से मुकदमे की पैरवी उप-जिला न्यायवादी KS जरयाल ने की।

इन्हें दी गई सजा

इसमें टिक्कम राम उर्फ टुन्नू पुत्र धर्म दास निवासी गांव खनोटा, तहसील निरमंड, जिला कुल्लू को NDPS एक्ट की धारा 20 के तहत आरोप सिद्ध होने पर 10 साल के कठोर कारावास और एक लाख रुपए जुर्माने की सजा सुनाई है। इसके अतिरिक्त हेत राम उर्फ अरविंद पुत्र शेष राम निवासी गांव कुंडाकोड, डाकघर जडोली, तहसील निरमंड, जिला कुल्लू और

नीटू राम पुत्र कर्म चंद निवासी गांव घडियाड़, डाकखाना बधाधार, तहसील बंजार, जिला कुल्लू को धारा 29 NDPS एक्ट के तहत आरोप सिद्ध होने पर 10 साल साधारण कारावास और 1 लाख रुपए जुर्माने की सजा सुनाई है।

खबरें और भी हैं…



Latest Himachal News – Nurpur News

Leave a Reply

Pin It on Pinterest