Latest Posts

चरस मामले में दे रहा था पुलिस को चकमा, करसोग पुलिस के निर्धारण | मंडी पीओ सेल की टीम ने पकड़ा नशा तस्कर आरोपित; करसोग पुलिस को सौंप दिया

[Nurpur Hindi News ]

करसोग4 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
पीओ सेल टीम की गिरफ़्तारी में तस्करों का उद्घोष किया।  - दैनिक भास्कर

पीओ सेल टीम की गिरफ़्तारी में तस्करों का उद्घोष किया।

हिमाचल के जिला परिवहन में पुलिस की विशेष पीओ सेल टीम ने गुरुवार को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस टीम ने चरस तस्करता के मामले में सनसनी को हिरासत में ले लिया है। जिसके बाद पोए सेल की टीम ने आगामी कार्रवाई के लिए थाना करसोग की पहचान कर ली है।

जानकारी के अनुसार चरस के मामले में पंच को पीओ सेल टीम ने पेय को सोझा से जमा किया है। घनत्व की शिनाख्त पेप चंद पुत्र मिर्जा सिंह निवासी गांव सोजा डाक सोमाकोठी तहसील करसोग जिले के रूप में हुआ है। दसवीं के खिलाफ वर्ष 2021 में पुलिस थाना करसोग में एनडीपीसी अधिनियम की धारा 20 और 29 के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई थी। इसी दरम्यान पुलिस का कब्जा अभी तक जारी था और अन्य आपराधिक मामलों के खिलाफ मामला विचाराधीन है।

पुलिस को हर बार चकमा देने से भ्रांति हो जाती है
नियामक दंडी करसोग ने 1 जुलाई 2022 को उद्घोषणा अपराधी घोषित किया था। इसके अगले दसवें मिनट में पुलिस की टीम की ओर से धरपकड़ को लेकर अलग-अलग जगहों पर दबिश दी गई। लेकिन हर बार चकमा देने में पहुंचने में। इस पर पोल शेयर टीम एचएचसी मोहिंद्र सैनी, कांस्टेबल विवेक भंगालिया और एलआईसी दिनेश चौधरी को सदी के बारे में करसोग के सोझा में मौजूद होने की सूचना मिली इस पर रेटिंग को लेकर।

एसपी बाजार शालिनी अग्निहोत्री ने कहा कि पोयर सेल टीम ने उद्घोषित घटना को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। उन्होंने कहा कि पीओ सेल टीम ने आगामी कार्यवाही के लिए एक सदी को करसोग पुलिस की रूपरेखा दे दी है।

खबरें और भी हैं…

[Nurpur Hindi News ]

Latest Himachal News – Nurpur News

Leave a Reply

Pin It on Pinterest