Latest Posts

आबकारी विभाग ने अलग-अलग जिलों में चलाया शराब कारोबारियों के खिलाफ अभियान | Shimla: 3.4 lakh illegal liquor caught in Himachal



शिमला5 मिनट पहले

पांवटा में खारा के जंगल में पकड़ी कच्ची अवैध शराब को नष्ट करते आबकारी विभाग की टीम।

हिमाचल में चुनाव के बहाने आबकारी एवं कराधान विभाग ने शराब कारोबारियों पर नकेल कसनी शुरू कर दी है। विभाग ने अब तक 3,40,000 लीटर अवैध शराब नष्ट की है। इसकी बाजार कीमत पौने दो करोड़ रुपए आंकी गई है। शराब के अवैध कारोबार को लेकर विभाग ने कांगड़ा जिले में तीन कारोबारियों के लाइसेंस भी रद किए हैं। जांच के दौरान शराब के कारोबारियों के पास रिपोर्ट में गड़बड़ियां पाई गईं।

आबकारी विभाग ने पांवटा के खारा के जंगलों में दबिश दी और यहां पर कच्ची शराब का बहुत बड़ा तालाब पकड़ा। टीम ने खारा के जंगलों में पकड़ी कच्ची शराब को तुरंत नष्ट किया और शराब के अवैध कारोबारी पर एक्साइज एक्ट के तहत कार्रवाई शुरू कर दी है।

मंडी में 10 किलो सोने की ईंटें भी पकड़ीं

छापेमारी के दौरान विभाग की टीम ने मंडी में 10 किलो सोने की ईंटें भी पकड़ी हैं। इसकी बाजार कीमत करोड़ों में आंकी गई है। छापेमारी के दौरान जिन दो लोगों से ये सोना बरामद किया गया है, उनके पास बिल और GST संबंधी दूसरे कोई भी दस्तावेज साथ में नहीं थे। विभाग ने GST एक्ट के तहत कार्रवाई शुरू कर दी है।

छापेमारी के लिए विभाग ने फील्ड में उतारी है 78 अधिकारियों की फौज

शराब के अवैध कारोबारियों पर धरपकड़ तेज करने के लिए आबकारी और कराधान विभाग ने अपने 78 अधिकारियों की फौज फील्ड में उतारी है। इसमें 13 जिला एक्साइज इंस्पेक्टर, 65 स्पेशल एन्फोर्समेंट के अधिकारी शामिल हैं। जो प्रदेश के जंगलों की खाक छानकर शराब की अवैध भट्ठियों को नष्ट कर रहे हैं।

अधिकारियों का कहना है कि कच्ची शराब को रिफाइन करके कारोबारी शराब तैयार कर रहे हैं, लेकिन यह सब काम अवैध तरीके से किया जा रहा है। आयुक्त आबकारी विभाग यूनुस ने बताया कि अवैध शराब कारोबारियों पर शिकंजा कसने की यह मुहिम लगातार जारी रहेगी।

खबरें और भी हैं…



Latest Himachal News – Nurpur News

Leave a Reply

Pin It on Pinterest